दोस्तो हम इस पोस्ट मे जानेगे डिक्शनरी के मेमोरी शब्द के भिन्न रूपो के बारे मे प्रभाव, उपयोग तथा विस्तार वर्णन को आस - पास की चीजों से जोड़कर भिन्न पहलुओ पर समझाने की कोशिश करेंगे। हमने यहाँ इनके शॉर्ट तथा विस्तार रूपो को बताने की कोशिश की है जिसके चलते आपको इन्हे पढ़कर समझने मे आसानी हो पाएगी। चलिये आगे बड़ते हुये इनके भिन्न पहलुओ को जानने की कोशिश करते है। 

Memory Meaning in Hindi Explain with Simple Uses :


Memory Means in Hindi :

धारणा, 
यादे, 
स्मरण,

दोस्तो मेरे खयाल से अब तक आपने इन सभी शॉर्ट अर्थो को रीड करके बहुत सी जगहो पर इस्तेमाल कर ही लिया होगा। परंतु यहाँ कुछ समस्या अवश्य ही महसूस हुयी होगी ऑर वो ये कि इन छोटे अर्थ बहुत जल्दी याद तो हो गए होंगे ऑर इनका इस्तेमाल भी बड़ी आसानी से कई जगहो पर कर चूके होंगे। 

अगर देखा जाये तो इन्हे जितना सरलता से याद किया जाता है वैसे ही इन्हे जल्दी भूल भी जाया करते है। इस तरह की बातों को ठीक करने के लिए ही इतना बड़ा आर्टिक्ल हमारे द्वारा लिखा गया है। इसे पूरा पढ़ते ही सभी जानकारी अच्छे से समझ आ जाएगी। चलिये ज्यादा समय ना खराब करते हुये आगे बड़ते है।


Meaning of Memory in Hindi with Full Explain :


प्रत्येक मीनिंग पर पूर्ण चर्चा को जाने - 

- धारणा, देखिये फ़्रेंड्स आप सभी इस धरती पर रहकर समाज के प्रत्येक कामो मे अपना योगदान देते है। यहाँ मौजूद प्रत्येक इंसान का जीवन भिन्न चीजों ऑर स्थिति के अनुसार चलता है। सभी अपनी लाइफ भिन्न तरीके से जीना चाहते है जिसके कारण सभी के विचार ऑर दिमाग मे अलग - अलग धारनाए होती है या दूसरे शब्दो मे कहे तो अपना आस - पास की चीजों को लेकर जीने का तरीका इसे समझा सकता है। 

अगर देखा जाये तो जब एक बच्चा पैदा होता है तभी से उसकी धारणा बनाना शुरू हो जाती है ऑर आगे समय के साथ जीवन के अनुभव इसे बदल देते है। 

- यादे, दोस्तो आप सभी इस शब्द को भलीभाती समझते ही होंगे क्योकि यहाँ मौजूद प्रत्येक इंसान अपनी लाइफ के अनुसार अनुभव के चलते जिंदगी की अच्छी ऑर बुरी यादे दिमाग मे रख लेता है। यादे कई तरह की हो सकती है जिसके चलते वह इन्हे याद करके खुश होने के साथ बुरा महसूस कर सकता है क्योकि यादे तो अच्छी ऑर बुरी दोनों रूपो मे आपके सामने आती है। ये यादे अपनी फॅमिली, समाज ऑर देश को लेकर हो सकती है। इसमे कई तरह की बाते शामिल हो सकती है। 

- स्मरण, इसे पढ़ते ही आपको अपने दिमाग की ओर इशारा मिला होगा। आप इसके अनुभव से अच्छी तरह बाखिफ भी हुये होंगे क्योकि यहाँ स्थित सभी इंसान बचपन से लगाकर बड़े होने तक स्कूल की पढ़ाई की होगी जिसके अंतर्गत परीक्षा को पास करने के लिए कुछ विषय को समझकर याद किया होगा। 

जब कुछ किताबों की जानकारी को बार - बार दोहराकर स्मरण कर लिया होगा ऑर फिर पेपर देकर अच्छे अंको से परीक्षा पास भी की होगी। अगर देखे तो यह केवल बचपन ही नही बल्कि अभी भी हमे कई सारी चीजों को याद करके रखना होता है। 

सभी मतलवों के प्रभाव को उदाहरण के साथ जानिए -

- धारणा, देखिये सभी इंसान अपनी जिंदगी मे जीते हुये समय - समय पर बहुत से कार्य करता हुआ अनुभव एकत्रित करता है इस अनुभव के चलते ही सभी की भिन्न चीजों ऑर कार्यो को लेकर धारनाए बनती जाती है। ये धारनाये ही जीवन को दिशा देकर जीवन मे अच्छे ऑर बुरे प्रभाव के कारण ही परिणाम दोनों तरह के देखने को मिलते है। 

यहाँ एक वस्तु के प्रति एक व्यक्ति की सोच अलग ऑर दूसरे किसी व्यक्ति का इसी वस्तु के प्रति विचार अलग हो सकता है। जिस धारणा की मात्रा ज्यादा होती है उनका प्रभाव भी उसी दिशा मे देखने को मिलती है। 

- यादे, दोस्तो ये जिंदगी है ऑर यहाँ मौजूद हर एक व्यक्ति के जीवन के अनुभव अलग - अलग होते है ऑर यादे इसी के अनुसार बनती ऑर बिगड़ती रहती है। ये यादे अच्छी ऑर बुरी दोनों ही संभव है क्योकि आस - पास अनेकों तरह की अच्छी - बुरी घटनाये घटित होती रहती है जो दिमाग मे बैठ जाती है। इससे समाज ऑर देश की स्थिति को प्रभावित होते देखा जा सकता है। लगातार इनमे बदलाब को चारो ओर देखकर समझ सकते है। 

- स्मरण, यह शब्द किसी भी वस्तु, शब्द या काम आदि को दिमाग मे याद रखने की ओर इशारा करता है। दोस्त हम सभी के दिमाग को इस तरह बनाया है कि चीजों कि यादे एक समय तक स्थित रहती है उसके बाद धीरे - धीरे इसे दिमाग द्वारा भूला दिया जाता है। दिमाग के भूला देने की स्थिति कुछ मामलो मे अच्छी तो दूसरी ओर इसके नुकसान भी उठाना पढ़ सकते है। 

चलिये अब इसे कुछ उदाहरण से जानते है, ऐसा मानो कि आपकी लाइफ मे कुछ बुरी घटना हुयी जिसे समय के साथ भूल जाना सही है लेकिन यदि उसे बार - बार याद करते है तो दुख होता है, दूसरी ओर कुछ काम की बाते जो याद रखकर समय पर यूज करना थी लेकिन आपके द्वारा भूला दी जाये तब भी परिणाम विपरीत मिलेगे। 

सभी वर्ड के उपयोग विस्तार से समझे - 

- धारणा, किसी इंसान द्वारा समय के साथ चीजों, कार्य, लोगो या स्थिति के चलते अनुभव को इसके अंतर्गत लेकर समझ सकते है। यह प्रत्येक के जीवन मे भिन्न भूमिका निभाते है। 

- यादे, परिवार के साथ या जीवन को जीते हुये कुछ अच्छी - बुरी बाते दिमाग मे बैठ जाती है जिसे यादों के रूप मे लेकर जानते है। 

- स्मरण, यह दिमाग की ताकत को बताता है जिसके चलते आस - पास की घटनाओ को याद रखकर आगे बड़ते है। इसके अंतर्गत लेकर समझ सकते है। 

मुझे उम्मीद है कि आपने इस पोस्ट को पूरा समझकर पढ़ ही लिया होगा ऑर अपनी जरूरत के अनुसार अनेकों जगहो पर इस्तेमाल भी अवश्य ही कर लिया होगा। यदि आपको इस पोस्ट से थोड़ा भी फायदा मिला तो हमे जरूर बताए ताकि हम आने बाली पोस्ट के ऑर भी बेहतर जानकारी आप तक पहुंचा सके। इसके अलावा हमसे कुछ कहना चाहते है तो भी नीचे कमेंट के द्वारा बताए ऑर हाँ, इस पोस्ट को अपने डियर फ़्रेंड्स के साथ शेयर करे ताकि वे भी इसका लाभ उठा सके। चलिये आगे नए आर्टिक्ल के साथ फिर मिलते है। 

Post a Comment

Previous Post Next Post