Means of Permission in Hindi with Full Definition - पर्मिशन का मतलव हिन्दी मे समझे

हैलो दोस्तो, आप सभी अच्छे ही होंगे। आज के इस पूरे आर्टिक्ल मे शब्दकोश के एक सबसे प्रचलित अर्थ Permission के बारे सम्पूर्ण बाते उदाहरण के द्वारा बताने जा रहे है जिन्हे अंत तक एक बार अच्छी तरह रीड कर लेने के बाद आपके दिमाग मे उठ रहे सवालो के जवाव आसानी से मिल जाएँगे। 

इसके अलावा यहाँ से जानकारी लेने के बाद ऑर कही जाने की भी आवश्यकता नही पड़ेगी। ये अर्थ इन्सानो के बीच एक - दूसरे के सम्मान ऑर सहमति से जुड़े है। तो फिर फटाफट आइए जल्दी से आगे बड़कर आखिर तक पूरा पोस्ट पढ़ते है। 

Means of Permission in Hindi with Full Definition :


Permission Means in Hindi :  

अनुमति, 
सम्मति, 
मंजूरी,

अब तक तो ऊपर के संक्षेप अर्थ को अच्छे से पढ़कर इस्तेमाल भी आसानी से कर लिया होगा। कितना फायदा मिला हमे नीचे कमेंट के द्वारा जरूर ही बताए। इन्हे बड़ी आसानी से याद करते हुये अनेकों स्थान पर अपनी जरूरतों के चलते उपयोग कर लेते होंगे। उपयोग करते समय एक समस्या इन्हे भूलने की भी सामने आती होगी हालाकि ये सभी के साथ कुछ स्तर पर देखी जा सकती है। इनका कारण इन अर्थो के पीछे किसी तरह की कहानी का मौजूद ना होना भी होता है। चलिये फिर आगे इस समस्या के पूर्ण निदान के लिए आगे पढ़ते है।



What is Permission Means in Hindi with All Tips:


सभी मीनिंग को विस्तार रूप मे जानिए - 

- अनुमति, आप सभी इस अर्थ को जानते ही होंगे ऑर इसका सीधे या विपरीत तौर पर रोज किसी स्थिति के चलते इस्तेमाल जरूर करते ही होंगे। एक प्रकार से देखा जाये तो यह घर के छोटे आदमी या बच्चो द्वारा कोई नया काम करने या फिर कही जाने हेतु अनुमति ली जाती है। कहने का तात्पर्य बड़ो के बिना आगे नही बड़ा जाता है। उदाहरण के लिए खुद के परिवार या आस - पड़ोस लोगो की निजी जिंदगी के पहलू देखकर समझ सकते है। 

- सम्मति, यह शब्द उस ओर इशारा करता है जहां परिवार, समाज या देश के भिन्न स्तर पर सभी की राय लेकर काम किए जाते है। इस तरह के कार्य सभी के सहयोग ऑर सलाह से किए जाते है आप अनुभव करते ही होंगे। यदि इसे थोड़ा करीब से देखे तो इस अर्थ का विस्तार मीनिंग, सभी के एक समान दिमाग की स्थिति निकलकर सामने आती है। जैसे व्यापार के चलते एक बड़ी टीम काम करती है तब आगे प्रगति के लिए कोई नया प्रयास करते समय सभी के विचारो को भी समझा जाता है।    

- मंजूरी, यह मतलव सीधे ही सरकारी कामो के चलते उसके नियमो से संबन्धित है। आए दिन ऐसे बहुत से काम हमारी निजी ऑर प्रॉफ़ेशन के अंतर्गत निकलते रहते है जिन्हे पूरा करने हेतु हमे सरकारी आदेशो की जरूरत पड़ती है तभी सारे काम पूरे हो पाते है। पहले के समय मे सारा काम कागज पर हुआ करता था लेकिन आज तकनीकी के चलते मोबाइल ऑर कम्प्युटर पर सब कुछ हो जाता है। ऐसे उदाहरण सरकारी अदालतों ऑर दफ्तर मे अनुभव किया ही होगा। 

दर्शाये प्रभाव को नीचे से जाने - 

- अनुमति, ऊपर काफी विस्तार रूप देख चुके है। यदि पहले समय के परिवारों के सदस्यो की बात करे तो वे सभी आपस मे मिलजुलकर रहते हुये बड़े सदस्यो की बाते मानते थे। इस तरह सकारात्मक प्रभाव पूरे परिवार ऑर समाज मे देखने को  मिलता था। 

यदि आज की बात करे तब समय बदल रहा है जिसके चलते सभी लोगो की मानसिकता मे भिन्नता दिखाई पड़ती है जिससे आज के बच्चे अपनी मर्जी से कामो को करना पसंद करते है। याने इसमे अच्छे ऑर विपरीत प्रभाव देखने को मिल ही जाते है। 

- सम्मति, यदि परिवार मे कोई नया या बड़ा काम करने से पहले सभी के साथ बैठकर आपस मे उस मुद्दे पर चर्चा की जाये ऑर एक सही बात चुनी जाती है। इससे सभी के बीच प्रेम के साथ अच्छे प्रभाव भी दिखाई पड़ते है। इसके विपरीत सभी अपनी मनमानी से चले तो आपस मे बुराई उत्पन्न होने लगती है जिससे प्रभाव ज्यादा अच्छे दिखाई नही देते। हालाकि ये स्थिति केवल परिवार मे ही नही बल्कि समाज ऑर देश के भिन्न क्षेत्रो मे भी दिखाई पड़ती है। आइए नीचे कुछ उपयोगी बाते जानते है। 

उपयोगों पर चर्चा को भलीभाती समझे - 

- अनुमति, एक का दूसरे से अनुमति लेना इसके अंदर समझ पाते है। 

- सम्मति, एक - दूसरे के विचारो को साथ लेकर प्रगति से समझ सकते है। 

- मंजूरी, कोई बड़े काम के कारण सरकारी स्तर पर इसे देख सकते है। 

मुझे आप सभी से उम्मीद है कि ऊपर से अंत तक पूरा आर्टिक्ल एक बार पढ़ लेने के बाद आपको हर एक कान्सैप्ट साफ हो गया होगा। यदि थोड़ी मदद मिली तो नीचे कमेंट मे अपनी सलाह या सुझाव जरूर लिखे। आगे जुड़े रहे ऑर दोस्तो को भी अपने साथ जोड़े। अब आगे फिर कुछ नयी जानकारी के साथ मिलते है।

Post a Comment

0 Comments